Headlines

बॉलीवुड

क्रिकेट

जीवन मंत्र

जयपुर। राजस्थान में चुनावों के माहौल के बीच सिनेप्रेमियों ने शुक्रवार को रिलीज हुई राजस्थानी फिल्म ‘‘म्हारे हिवड़ा में नाचे मोर’’ पर अपनी मोहर लगाकर उसकी सफलता को सिद्ध कर दिया है। टिन्सल टाउन क्रिएषन्स प्रा. लि. के बैनर तले निर्मित तथा चिन्टू माहेष्वरी निर्देषित राजस्थानी फिल्म ‘‘म्हारे हिवड़ा में नाचे मोर’’ राज्य के 55 सिनेमाघरों में रिलीज की गई, जिसके पहले दिन के सभी शो हाउसफुल रहे। फिल्म स्क्रीनिंग शुरू होने से पहले सुबह से ही दर्षकांे का जमावड़ा सिनेमाघरों में लगा रहा और सिनेमा प्रेमी बेसब्री से शो प्रारंभ होने को इंतजार कर रहे थे। जयपुर के गोलछा मल्टीप्लेक्स में फिल्म का प्रीमियर शो आयोजित किया गया। इस दौरान फिल्म के निर्माता रचना अनिल पोद्दार, निर्देषक चिन्टू माहेष्वरी, अभिनेता निखिल शर्मा, देव शर्मा, संजीव शर्मा, मधु आचार्य, मीना माहेष्वरी, अनन्या ठाकुर, खुषी राजावत सहित वरिष्ठ फिल्म वितरक श्याम सुंदर जालानी एवं नन्दू जालानी उपस्थित थे। इस मौके पर फिल्म के कलाकारों ने फिल्म के गीतों पर रंगारंग सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से माहौल को पूरी तरह फिल्मी रंग में रंग दिया। 
फिल्म देखकर लौटे दर्षकांे की प्रतिक्रिया थी कि पहली बार राजस्थानी भाषा में किसी बाॅलीवुड फिल्म का आनंद लिया है। जहां एक ओर मोना माहेष्वरी और निखिल शर्मा की अदाकार जोड़ी ने भरपूर रंग जमाया है, वहीं संजीव, देव शर्मा, खुषी राजावत और पिंकी लालवानी ने भी अपने सषक्त अभिनय से दर्षकों पर छाप छोड़ी है। करवा चैथ और होली के पर्वों में राजस्थानी संस्कृति की झलक इस फिल्म में देखने को मिली वहीं कहानी में विभिन्न परिस्थितियों से उपजे हास्य ने भी सिने दर्षकों के पेट में हंसी के मारे बल कर दिए। फिल्म में चिन्टू माहेष्वरी के निर्देषकीय कौषल से रू-ब-रू हुए वहीं उन्हें यह मूवी तकनीकी तौर पर अन्य फिल्मों के मुकाबले कहीं अधिक समृद्ध महसूस हुई। फिल्म संगीत के साथ ही दर्षकों ने संतोष साल्वनकर के नृत्य निर्देषन की भरपूर सराहना की। कुल मिलाकर दर्षकों का यही जवाब था कि ‘‘म्हारे हिवड़ा में नाचे मोर’’ का मतलब है ‘‘फुल्ली फैमिली एंटरटेनमेन्ट’’।

जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्...

जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्हारी पत्‍‌नी तुम्हारे ऊपर बर्तन फेंकती है?

पति- जी जज साहब

जज-कितने दिन से फेंकती है?

पति- साहब जब से शादी हुई है तब से

जज- और तुम्हारी शादी को कितने साल हो गए हैं?

पति- जी पांच साल

जज-तो तुमने पिछले पांच सालों में शिकायत क्यों नहीं की?

पति- जी क्योंकि कल पहली बार उसका निशाना बराबर लगा है।


जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्...

जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्हारी पत्‍‌नी तुम्हारे ऊपर बर्तन फेंकती है?
पति- जी जज साहब
जज-कितने दिन से फेंकती है?
पति- साहब जब से शादी हुई है तब से
जज- और तुम्हारी शादी को कितने साल हो गए हैं?
पति- जी पांच साल
जज-तो तुमने पिछले पांच सालों में शिकायत क्यों नहीं की?
पति- जी क्योंकि कल पहली बार उसका निशाना बराबर लगा है।
- See more at: http://www.jagran.com/jokes/husband-wife/husband-wife-joke-11355883.html?src=ART-JOK#sthash.od10KRR4.dpuf

जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्...

जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्हारी पत्‍‌नी तुम्हारे ऊपर बर्तन फेंकती है?
पति- जी जज साहब
जज-कितने दिन से फेंकती है?
पति- साहब जब से शादी हुई है तब से
जज- और तुम्हारी शादी को कितने साल हो गए हैं?
पति- जी पांच साल
जज-तो तुमने पिछले पांच सालों में शिकायत क्यों नहीं की?
पति- जी क्योंकि कल पहली बार उसका निशाना बराबर लगा है।
- See more at: http://www.jagran.com/jokes/husband-wife/husband-wife-joke-11355883.html?src=ART-JOK#sthash.od10KRR4.dpuf

जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्...

जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्हारी पत्‍‌नी तुम्हारे ऊपर बर्तन फेंकती है?
पति- जी जज साहब
जज-कितने दिन से फेंकती है?
पति- साहब जब से शादी हुई है तब से
जज- और तुम्हारी शादी को कितने साल हो गए हैं?
पति- जी पांच साल
जज-तो तुमने पिछले पांच सालों में शिकायत क्यों नहीं की?
पति- जी क्योंकि कल पहली बार उसका निशाना बराबर लगा है।
- See more at: http://www.jagran.com/jokes/husband-wife/husband-wife-joke-11355883.html?src=ART-JOK#sthash.od10KRR4.dpuf

जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्...

जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्हारी पत्‍‌नी तुम्हारे ऊपर बर्तन फेंकती है?
पति- जी जज साहब
जज-कितने दिन से फेंकती है?
पति- साहब जब से शादी हुई है तब से
जज- और तुम्हारी शादी को कितने साल हो गए हैं?
पति- जी पांच साल
जज-तो तुमने पिछले पांच सालों में शिकायत क्यों नहीं की?
पति- जी क्योंकि कल पहली बार उसका निशाना बराबर लगा है।
- See more at: http://www.jagran.com/jokes/husband-wife/husband-wife-joke-11355883.html?src=ART-JOK#sthash.od10KRR4.dpuf

जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्...

जज- तुम्हारी शिकायत है कि तुम्हारी पत्‍‌नी तुम्हारे ऊपर बर्तन फेंकती है?
पति- जी जज साहब
जज-कितने दिन से फेंकती है?
पति- साहब जब से शादी हुई है तब से
जज- और तुम्हारी शादी को कितने साल हो गए हैं?
पति- जी पांच साल
जज-तो तुमने पिछले पांच सालों में शिकायत क्यों नहीं की?
पति- जी क्योंकि कल पहली बार उसका निशाना बराबर लगा है।
- See more at: http://www.jagran.com/jokes/husband-wife/husband-wife-joke-11355883.html?src=ART-JOK#sthash.od10KRR4.dpuf
जयपुर । कृषि मंत्री  प्रभुलाल सैनी ने कहा है कि राज्य के किसानों को समय पर सोयाबीन का बीज उपलब्ध कराया जाएगा। सैनी शुक्रवार को सचिवालय में आयोजित कृषि, राज्य बीज निगम, राष्ट्रीय बीज निगम और भारतीय फार्म निगम के अधिकारियों की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने अधिकारियों को 15 जून से पहले किसानों को सोयाबीन बीज उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। कृषि मंत्री ने बताया कि राज्य बीज निगम को 80 हजार, राष्ट्रीय बीज निगम को 38 हजार और राजफैड को 20 हजार क्विंटल सोयाबीन बीज उपलब्ध कराने का लक्ष्य दिया गया है। उन्होंने बताया कि खरीफ 2014 में राज्य सरकार किसानों को 90 हजार क्विंटल उन्नत किस्म का सोयाबीन बीज नि:शुल्क उपलब्ध कराएगी। उन्होंने बताया कि अभी राज्य में सोयाबीन के  2 लाख 24 हजार क्विंटल बीज की जरूरत है, जबकि हमारे पास 1.50 लाख क्विंटल बीज उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि बाकी बीज के लिए राज्य बीज निगम, राष्ट्रीय बीज निगम, तिलम संघ, कृभको, राजफैड के अधिकारियों को बाहर से बीज क्रय करने के निर्देश दिए गए हैं।  मंत्री ने बताया कि अगर बाहर से खरीदा गया बीज महंगा पड़ेगा, तो राज्य सरकार उस पर अनुदान देगी। उन्होंने बताया कि देश में राजस्थान मध्यप्रदेश के बाद सोयाबीन का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक राज्य है। उन्होंने बताया कि मांग की तुलना में अभी राज्य बीज निगम और राष्ट्रीय बीज निगम 25 से 30 प्रतिशत बीज ही जुटा पाते है। उन्होंने बताया कि आने वाले समय में सोयाबीन के बीज में राज्य आत्मनिर्भर बनाया जायेगा। सोयाबीन के बीज की कमी के कारणों को स्पष्ट करते हुए कृषि मंत्री ने कहा कि वर्ष 2013 में मध्यप्रदेश और राजस्थान में अधिक वर्षा हुई, जिसकी वजह से सोयाबीन की फसल नष्ट हो गई, जिसके परिणामस्वरूप बीज की कमी हो गई।

उन्होंने बताया कि सोयाबीन के बीज की बढ़ती मांग को देखते हुए किसानों को प्रमाणिक बीज उपलब्ध कराने के लिए सरकार पूरी तरह कटिबद्घ है।

बैठक में कृषि आयुक्त सुधांश पंत, राज्य बीज निगम के प्रबंध निदेशक  शक्ति सिंह राठौड, मुख्य प्रबंधक कर्नल अमिताभ पाण्डेय सहित, राष्ट्रीय बीज निगम और भारतीय फार्म निगम के कई अधिकारी उपस्थित थे।

मुंबई- टीम इंडिया से बाहर चले रहे वीरेंद्र सहवाग के तूफानी शतक की बदौलत किंग्स इलंवन पंजाब ने आईपीएल के दूसरे क्वालीफायर में आज यहां चेन्नई सुपरकिंग्स को 24 रन से हराकर पहली बार इंडियन प्रीमियर लीग के फाइनल में प्रवेश किया, जहां उसका सामना कोलकाता नाइट राइडर्स से होगा। पंजाब के 227 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई की टीम सुरेश रैना की 25 गेंद में 12 चौकों और छह छक्कों की मदद से खेली गई 87 रन की पारी के बाजवूद सात विकेट पर 202 रन ही बना सकी। रैना के अलावा कप्तान महेंद्र सिंह धौनी (31 गेंद में नाबाद 42) ही टिककर खेल पाए।

जयपुर। मुख्यमंत्री  वसुंधरा राजे ने शनिवार को राजभवन जाकर राज्यपाल  माग्र्रेट आल्वा के भाई जॉन नजरेथ के निधन पर संवेदना व्यक्त की। राजे ने  नजरेथ के असामयिक निधन पर संवेदना व्यक्त करते हुए श्रीमती आल्वा एवं उनके सभी परिजनों को ढांढस बंधाया। मुख्यमंत्री ने ईश्वर से दिवंगत की आत्मा की शांति के साथ परिजनों को यह आघात सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की।

---



सीकर, 29 जनवरी। जिला कलेक्टर एस.एस.सोहता की अध्यक्षता में बुधवार को यहां कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न बैठक में खाटूश्यामजी मेले में इंतजामों व सुविधाओं पर विचार विमर्श किया गया तथा अनेक नये निर्णय भी लिये गये। इस वर्ष मेला 8 से 13 मार्च तक भरेगा। जिला कलेक्टर ने बताया कि इस बार खाटूश्यामजी मेलेे में दर्शन के लिए आने वाले लोगों को वी.आई.पी.दर्शन पास की सुविधा उपलब्ध नहीं होगी। दर्शनार्थियों को पंक्ति में लगकर ही दर्शन करने होंगे। बैठक में वी.आई.पी.पास जारी कर दर्शन कराने की व्यवस्था को बंद करने का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया हैं। उन्होंने बताया कि खाटूश्यामजी के वाशिंदों को मेले के दौरान उनके आधार कार्ड व मतदाता फोटो पहचान पत्र के आधार पर खाटूश्याम में घूमने व मंदिर में दर्शन के लिए आने जाने के लिए दिखाना होगा जिन लोगों के पास उक्त दोनों दस्तावेज नहीं हैं उन्हीं व्यक्तियों को ही तहसीलदार द्वारा मेला पास जारी किया जायेगा। जिला कलेक्टर ने बताया कि खाटूश्यामजी में गत वर्ष मेलावधि के बाद गैस सलैण्डर से हुए अग्निकाण्ड को मध्यनजर रखते हुए सावधानियां बरतने के भी उपाय किये जायेंगे ताकि किसी भी प्रकार की दुर्घटना की पुनरावृत्ति नहीं होने पायें। जिला कलेक्टर ने जिला रसद अधिकारी को निर्देश दिये कि वे यह सुनिश्चित करें कि होटल व रेस्टोरेन्ट में व्यावसायिक गैस सलैण्डर ही उपयोग में लिये जायें। यदि घरेलू सलैण्डर का उपयोग करते पाया जायें तो उसे जब्त किया जाये। जिला रसद अधिकारी ने बताया कि मेला प्रारम्भ होने से पहले होटल व रेस्टोरेन्ट व्यवसायियों को व्यावसायिक सलैण्डर उपयोग लेने के लिए समझाईश की जायेगी तथा ऐसा वातावरण निर्माण किया जायेगा ताकि वे स्वप्रेरित होकर ही घरेलू गैस सलैण्डर काम में नहीं लें। जिला कलेक्टर ने दांतारामगढ़ विकास अधिकारी गोपाल सिंह को निर्देश दिये कि खाटूश्यामजी में स्थित सभी दुकानदारों की दुकानों में अग्निशमन यंत्र हर समय उपलब्ध रहे यह सुनिश्चित करें। यदि कोई दुकानदार अपनी दुकानों में उक्त यंत्र नहीं रखता हैं तो उसे बंद करने की कार्रवाई की जायेगी। जिला कलेक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.बी.एल.सैनी को खाटूश्यामजी में संचालित होटल व रेस्टोरेन्टों का चिन्हिकरण कर लाइसेन्स लेने वाले सभी रेस्टोरेन्ट व होटल मालिकों के लाईसेन्स में यह शर्त भी डालने के निर्देश दिये कि उन्हें अग्निशमन यंत्र रखना भी होगा। बैठक में खाटूश्यमजी में मुख्य मेला क्षेत्र व श्रद्वालुओं के मंदिर में दर्शन करने के आवागमन की मुख्य सड़कों पर विद्युत की अण्डर ग्राउन्ड कैबल डालने, फायर बिग्रेड वाहनों में पानी भरने के स्त्रोतों का चिन्हिकरण करने, मंदिर परिसर के निकट पानी का ओवर हैड टैंक बनाने, रींगस से खाटूश्यामजी तक दर्शन के लिए आने के लिए श्रद्वालुओं को वन-वे रखने तथा पूल के वाहन आने देने तथा भारी वाहनों को मण्डा रोड़ से हनुमानपुरा होते हुए पार्किंग स्थल पर पहुंचने, रींगस से खाटूश्यामजी सड़क पर स्थाई डिवाडर लगाने का कार्य आगामी 28 फरवरी तक पूर्ण कराने, रींगस से खाटूश्यामजी मार्ग पर मेले के दौरान कोई भी भारी वाहन नहीं आने पाये यह सुनिश्चित करने, खाटू मेले के दौरान रींगस मोड़ पर बेरी केडिंग कर 24 घंटे पुलिस जाब्ते की व्यवस्था रखने, हनुमानपुरा से मण्डा मोड़ तक ढाई किलोमीटर तक कच्ची सड़क के खड्डे भरकर मार्ग को दुरूस्त करने, मण्डा रोड़ से सांवलपुरा तक की सड़क का डामरीकरण कार्य शीघ्र कराने, खाटूश्यामजी गांव के मौहल्लों में मुख्य प्रवेश द्वार पर स्थाई दरवाजे लगाने तथा मेले में दर्शनार्थियों को मंदिर कमेटी द्वारा पानी प्लास्टिक के पाउच में देने के बजाय 200 एमएल की बोतल में दिये जाने, खाटूश्यामजी में मंदिर दर्शन के लिए जाने वाली मुख्य सड़क पर अस्थाई दुकानों की स्वीकृति नहीं देने, वाहन पार्किंग स्थल पर अस्थाई शौचालय लगाने तथा मेले के दौरान लगाई जाने वाली एलईडी व सीसी टीवी कैमरों की संख्या सुरक्षा को मध्यनजर रखकर बढ़ाने की व्यवस्था सुनिश्चित करने के सम्बन्ध में निर्देश दिये व निर्णय लिये गये। संकेतक लगाने, सड़कों के इन्डीकेट बोर्डो पर खाटूश्यामजी की दूरी अंकित कराने, इसके अलावा सड़कों पर पेचवर्क कराने, यातायात रोडवेज बसों की व्यवस्था, पार्किंग व्यवस्था, सफाई व्यवस्था, जिकजैक बैरीकेटिंग व्यवस्था, चिकित्सा व्यवस्था, पेट पलायन दर्शनार्थियों की व्यवस्था, स्काउट व्यवस्था, पेयजल व्यवस्था, क्रेन व्यवस्था तथा खाटूश्यामजी में अवैध रूप से बन रही कई मंजिल, इमारतों के सम्बन्ध में कार्रवाई अमल में लाने सहित अन्य व्यवस्थाओं पर भी व्यापक विचार विमर्श किया गया। मेला व्यवस्थाओं के सम्बन्ध मेें आगामी बैठक 13 फरवरी को पूर्वाहन 11 बजे रखी गई हैं। बैठक में पुलिस अधीक्षक हैदर अली जेदी, नीमकाथाना अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार काछवाल, अपर जिला कलेक्टर कुंजमोहन शर्मा, एसीईओ महेन्द्र लोढा, दांतारामगढ़ एस.डी.एम. एम.आर.बगडिय़ा, ए.सी.एम.सीकर अनुपम कायल, रींगस के पुलिस उपाधीक्षक महेन्द्र सैनी, श्याम मन्दिर कमेटी के अध्यक्ष मोहनदास व अन्य प्रतिनिधि, खाटूश्यामजी के सरपंच प्रतिनिधि पवन पुजारी, खाटूश्यामजी के व्यापार संघ के प्रतिनिधि, खाटू पंचायत के प्रतिनिधि, विभिन्न विभागों के अधिकारी, खाटू के थानाधिकारी आदि भी उपस्थित थे।

सीकर। भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर प्रहार करते हुए कहा है कि एक तरफ शेखावाटी की माताएं अपने बेटे के गर्भ में ही होने पर उसे देश को अर्पण करने की शपथ लेती हैं, वहीं दूसरी तरफ दिल्ली में बैठी एक मां है जो अपने बेटे के लिए देश की बली चढ़ाना चाहती है। वे सोमवार को जिले के लक्ष्मणगढ़ इलाके के नेहरू स्टेडियम में सीकर से भाजपा प्रत्याशी स्वामी सुमेधानन्द व झुंझुनूं से पार्टी प्रत्याशी संतोष अहलावत के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। मोदी ने कहा कि मां क्या होती है, उसका जीवन कितना उच्च होता है, भारत मां के लिए अपने बेटे को बलिदान करने के लिए शेखावाटी की माताओं में ही देखने को मिलता है। अंबेडकर जयंती पर संविधान निर्माता बाबा भींमराव अंबेडकर को नमन करते हुए मोदी ने कहा कि बाबा साहेब ने देश को संविधान व लोकतंत्र दिया, जिसकी बदौलत हम अपनी पसंद की सरकार चुनते हैं। जबकि इन दिनों एक शहजादे बाबा साहेब का अपमान कर रहे हैं। वे गांव-गांव में जाकर कह रहे हैं कि हमने वो कानून बनाया, हमने वो अधिकार आपको दिया, ये बाबा साहेब का अपमान है जो अब बर्दाश्त नहीं होगा। उन्होंने कहा कि यदि सोनिया गांधी ने अपने कार्यकाल के दौरान यह सब किया होता तो देश के ये हालात नहीं होते। बाबा साहेब ने सबको बोलने का अधिकार दिया, लेकिन सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री के बोलने का अधिकार भी छीन लिया है। दो घंटे देरी से आये मोदी ने अपने तीस मिनट के भाषण में कांग्रेस पार्टी पर जमकर प्रहार किए। मोदी ने कहा कि कांग्रेस दलितों, पिछड़ों व गरीबों की बात करती है, यदि बाबा साहेब नहीं होते तो संविधान नहीं होता और मेरे जैसा चाय बेचने वाला व्यक्ति आपके सामने नहीं होता। लोकतंत्र का ही नतीजा है कि एक चाय बेचने वाला व्यक्ति आपके प्यार का अधिकारी बन गया है। भाजपा की चल रही लहर पर बोलते हुए मोदी ने कहा कि यह चुनाव कोई दल, कोई पार्टी नहीं लड़ रही है, यह पहला चुनाव जो जनता स्वयं लड़ रही है। उन्होंने कहा कि यह पहला चुनाव है जहां पर चुनाव घोषित होने से पहले ही परिणाम आ चुके हैं। अब दिल्ली में कांग्रेस की सरकार को जाना ही होगा। विधानसभा चुनावों में भाजपा को मिली ऐतिहासिक सफलता पर बोलते हुए मोदी ने कहा कि जैसे इस मरू भूमि में कमल खिलाया था वैसे ही देश में कमल खिलेगा। उन्होंने कहा कि अब कांग्रेस का सफाया हो चुका है, अब तो कांग्रेसियो सुधरो। जनता सड़ी हुई प्याज को नहीं सूंघना चाहती है और शेखावाटी तो वैसे ही प्याज की धरती है। कांग्रेस अब भी समझने व सुधरने को तैयार नहीं है। वे गंध फैला रहे हैं, अलोकतांत्रिक भाषा का प्रयोग कर रहे हैं, लेकिन ये जितना कीचड़ उछालेंगे, कमल उतना ही खिलेगा। कांग्रेस के शासन पर प्रहार करते हुए मोदी ने कहा कि 60 वर्षों से जो राजनीति चली आ रही है, उसका खात्मा अब भी नहीं करोगे तो देश और बर्बाद हो जाएगा। इस समय देश को एकता, शांति व सद्भावना की जरूरत है। इनसे देश को आगे बढ़ाया जाएगा। कांग्रेस ने जो जैसा बोया है, देश को उसी साये से बाहर निकालना है। कांग्रेस ने देश, समाज व पानी के नाम पर लड़ाया है। देश के टुकड़े करने वाली कांग्रेस हमें संस्कृति सिखा रही है। यह हमारा अपमान है। देश को सुशासन व विकास के मुद्दे पर आगे लाना होगा। गरीबों को खाना, बेरोजगारों को रोजगार, महिलाओं की इज्जत इस देश के नागरिक को चाहिए। उन्होंने कहा कि सत्ता परिवर्तन के लिए कुछ लोग जोर लगा रहे हैं, लेकिन पहली बार सत्ता में बैठे लोग मोदी को रोकने का काम कर रहे हैं। इसका पता तो 16 मई को आने वाले चुनाव परिणाम के बाद ही पता चलेगा। कांगे्रस ने देश को बहुत लूटा है, अब जनता को हिसाब देना होगा। उन्होंने कहा कि लाल बहादुर शास्त्री ने जय जवान, जय किसान का नारा दिया था जो अब कहीं नजर नहीं आता है। अब जवानों के सिर काट लिये जाते हैं, फिर भी जय जवान कहते हैं। युद्ध में जितने जवान मरे हैं, उससे ज्यादा किसानों ने आत्म हत्या की है। अब कांग्रेस का नारा है मर जवान, मर किसान। ऐसे में अब गांव, जवान व किसान को बचाना होगा। भाजपा के घोषणा पत्र पर बोलते हुए मोदी ने कहा कि इस घोषणा पत्र से पहली बार किसानों का भला होगा। अब तक किसानों की फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य तय नहीं होने से किसान मारा जा रहा है। भाजपा ने इसे अपने घोषणा पत्र में लागू करते हुए कहा कि खेती में जो खर्चा आता है उसमें 50 प्रतिशत मूनाफा जोड़कर किसान को उसका पैसा मिलेगा। ये सोच भाजपा ने तय की है, इसके बाद किसान को किसी के सामने हाथ फैलाने की जरूरत नहीं होगी। हम फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया की क्षमता बढ़ायेंगे। इसके तहत हमने इसे तीन टुकड़ों में बांटा है। पहली यह किसान की फसल की कीमत तय करेंगे, दूसरा इसे रखने का प्रबंध करेगा और तीसरा इसे जरूरतमंद स्थान पर पहुंचाने का कार्य करेगा। महरिया पर साधा निशाना : भाजपा से बागी होकर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे सुभाष महरिया पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि कुछ लोग मेरे नाम का उपयोग कर रहे हैं। महरिया का नाम लिये बिना उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों से उनका कोई रिश्ता नहीं है, मेरा कोई रिश्तेदार भी नहीं है। मेरा तो एक ही रिश्तेदार है जो कमल है। जो कमल का निशान लाया है वो ही मेरा व भाजपा का रिश्तेदार है।
नारों से रूके मोदी :
सभा स्थल पर बैठे युवकों ने जब मोदी- मोदी के नारे लगाने बंद नहीं किये तो मोदी ने कहा कि आपके प्यार को मैंने मान लिया है। आप यदि अब नारे नहीं भी लगाओगे तो भी मुझे आपके प्यार की अनुभूति होगी।
मांगी क्षमा :
दो घंटे देरी से आने पर मोदी ने लोगों से क्षमा मांगते हुए कहा कि इतनी धूप में आप तपस्या कर रहे हैं, इस तपस्या को मैं कभी बेकार नहीं जाने दूंगा।
उखड़ा टेंट :
स्टेडियम में आंधी चलने के कारण कुछ जगह का पांडाल में लगाया गया टेंट उखड़ गया व माईक के तार निकल गये। टेंट लोगों पर गिरने से एक बार सभा स्थल पर भारी भगदड़ मच गई।
इन्होंने किया संबोधित :
चुनावी सभा को सीकर से प्रत्याशी स्वामी सुमेधानंद व झुंझुनूं से प्रत्याशी संतोष अहलावत, झुंझुनूं लोकसभा प्रभारी दिगंबर सिंह, सीकर प्रभारी प्रेमसिंह बाजौर, सीकर जिलाध्यक्ष हरिराम रणवां झुंझुनूं जिलाध्यक्ष दशरथसिंह, विधायक रतन जलधारी, झाबरसिंह खर्रा, रामलाल शर्मा, बंशीधर बाजिया, गोवर्धन वर्मा, सुन्दरलाल सहित कई पूर्व विधायकों व पदाधिकारियों ने भी संबोधित किया।